कुल पेज दृश्य

शुक्रवार, 4 फ़रवरी 2011

जादुई जड़ी


अमेरिका में इन दिनों खटमलों की भरमार हो गई है। अमेरिकी इनके मारे परेशान हैं। कई प्रकार की दवाएं आजमाई लेकिन खटमल खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहे। गत दिनों यह समाचार बीबीसी पर भी था। हमने नईदुनिया में भी प्रकाशित किया था। मेरे पास मंदसौर जिले के भानपुरा तहसील के सिंधाना ग्राम से श्री बालचंद सोनी नामक सज्जन का फोन आया। उन्होंने बताया कि साहब हमारे गाँव में एक ऐसी जड़ी है, जिसे घर में लटका दो तो एक हफ्ते में घर के सारे खटमल मर जाते हैं। यह प्रयोग हम ग्रामवासियों ने आजमाया है। यहाँ से अन्य गाँव के लोग भी यह जड़ी ले जाते हैं। मैंने उनसे जड़ी का नाम जानना चाहा तो वे बता नहीं सके। कहने लगे नाम वाम तो हम जानते नहीं, बस इसे पहचानते हैं और इसका प्रयोग जानते हैं।
मैंने एक आयुर्वेद की पुस्तक में पढ़ा था कि पुराने समय में सहज प्रसूति नहीं होने पर गर्भवती स्त्री के तकिये के नीचे एक जड़ी रख दी जाती थी। कुछ देर में ही बच्चा सहज बाहर आ जाता था। बच्चे के बाहर आते ही तुरंत जड़ी वहाँ से हटाने की चेतावनी भी दी गई थी, वरना गर्भाशय बाहर आने का खतरा रहता है। कहने का मतलब कईं ऐसी वनस्पतियाँ और जड़ी बूटियाँ हैं, जो जादुई असर दिखाती हैं। समय के साथ कुछ तो विलुप्त हो गईं और फिर इनके जानकार भी नहीं रहे। हमारे वनस्पति शास्त्रियों को इस दिशा में प्रयोग करने चाहिए ताकि इन जादुई जड़ियों का लाभ फिर से मानव को मिलने लगे। वरना हम यूँ ही माताओं का पेट चीर-चीर कर सीजेरियनों की भरमार करते रहेंगे।

5 टिप्‍पणियां:

  1. क्या आप बालचंद सोनी जी का फ़ोन नंबर दे सकते हैं, जिन्होंने खटमल के लिये आपको फ़ोन किया था ।

    उत्तर देंहटाएं
  2. ऐसी पोस्ट का क्या लाभ जब इस में न टो जड़ी का नाम है और न हे समाधान. जड़ी का नाम तो कम से कम लीखें. रमेश चंदर शारदा.

    उत्तर देंहटाएं
  3. ऐसी पोस्ट का क्या लाभ जब इस में न टो जड़ी का नाम है और न हे समाधान. जड़ी का नाम तो कम से कम लीखें. रमेश चंदर शारदा.

    उत्तर देंहटाएं